मणिशंकर अय्यर ने PM मोदी को कहा डरपोक,मीडिया को कहा बुरा-भला


Asian Reporter Mail

नई दिल्ली: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर एक बार फिर विवादों के घेरे में हैं। इस बार अय्यर ने न सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला, बल्कि मीडिया के साथ भी बदसलूकी की है। मंगलवार को एक सवाल के जवाब में अय्यर ने प्रधानमंत्री मोदी को डरपोक कहा, लेकिन जब उनसे 23 मई के नतीजों को लेकर सवाल पूछा गया तो वह भड़क गए। उन्होंने मीडिया को बुरा-भला कहते हुए वहां से चले जाने को कहा। इससे पहले अय्यर ने महीनों की चुप्पी तोड़ते हुए लोकसभा चुनाव के अखिरी चरण के मतदान से पहले मंगलवार को अपने एक लेख के जरिए नया सियासी बवाल खड़ा कर दिया था। 
अय्यर ने अपने लेख में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ अपनी ‘नीच आदमी’ वाली एक पुरानी टिप्पणी को सही ठहराया था और उन्हें देश का सबसे ‘बदजुबान’ प्रधानमंत्री बताया था। लोकसभा चुनावों के अंतिम चरण से कुछ दिन पहले इस लेख में अय्यर ने कहा, ‘याद है 2017 में मैंने मोदी को क्‍या कहा था? क्‍या मैंने सही भविष्‍यवाणी नहीं की थी?’ दरअसल, अय्यर ने 2017 में गुजरात विधानसभा चुनाव के समय प्रधानमंत्री मोदी को 'नीच किस्म का आदमी' कहा था। इस बयान पर खासा बवाल मचा था और बाद में कांग्रेस नेता को माफी मांगनी पड़ी थी। कांग्रेस ने उन्हें निलंबित कर दिया था, हालांकि कुछ महीनों के बाद उनका निलंबन निरस्त हो गया था।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी एक चुनावी रैली में अय्यर और कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि वह ऐसी गालियों को ‘उपहार’ की तरह लेते हैं और जनता बीजेपी को चुनकर हर एक गाली का जवाब देगी। उन्होंने कहा, ‘कल उन्होंने (अय्यर ने) फिर वही बात कही है जो पहले भी कही थी। लेकिन कांग्रेस ने उन्हें निलंबित करने का ड्रामा किया था और बाद में उन्हें पार्टी में फिर से ले आए थे। लेकिन कांग्रेस ने उनकी कही बातों को गलत नहीं माना और यह उसी का नतीजा है। वह एक बार फिर कह रहे हैं और जोर देकर कह रहे हैं कि मेरे खिलाफ अभद्र शब्दों के प्रयोग में कुछ भी गलत नहीं है। मैं ऐसी गालियों को उपहार की तरह लेता हूं।’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी एक चुनावी रैली में अय्यर और कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि वह ऐसी गालियों को ‘उपहार’ की तरह लेते हैं और जनता बीजेपी को चुनकर हर एक गाली का जवाब देगी। उन्होंने कहा, ‘कल उन्होंने (अय्यर ने) फिर वही बात कही है जो पहले भी कही थी। लेकिन कांग्रेस ने उन्हें निलंबित करने का ड्रामा किया था और बाद में उन्हें पार्टी में फिर से ले आए थे। लेकिन कांग्रेस ने उनकी कही बातों को गलत नहीं माना और यह उसी का नतीजा है। वह एक बार फिर कह रहे हैं और जोर देकर कह रहे हैं कि मेरे खिलाफ अभद्र शब्दों के प्रयोग में कुछ भी गलत नहीं है। मैं ऐसी गालियों को उपहार की तरह लेता हूं।’

You May Also Like

Notify me when new comments are added.

ट्रेंडिंग/Trending videos

मुद्दा गर्म है

नज़रिया

एशिया