देश को सामूहिकता से नहीं तानाशाही से ही ठीक किया जा सकता है ? न सरकार चलाने में सहमति न संसद के भीतर सहमति ! पर सभी देशहित की ही बात कहते है !


Editor :tasneem kausar

You May Also Like

Notify me when new comments are added.

ट्रेंडिंग/Trending videos

मुद्दा गर्म है

नज़रिया

एशिया